मोटापा कसे काम करे

मोटापा काम कर चुटकियों में

आजकल भागदौड़ भरी जिंदगी एवं व्यवस्था एवं खानपान वातावरण इस प्रकार का हो गया है कि हर तीसरा आदमी मोटापे का शिकार होता है इसके कारण उसे बहुत सारी समस्याओं का सामना करना पड़ता है

हम आपको बताएंगे कैसे घरेलू उपचार से अपने मोटापा काबू में कर सकते हैं इसके लिए मैं पोस्ट पूरा जरूर पढ़ें

मोटापा कम करने का कुछ महत्वपूर्ण उपाय

कई सारी डाइट हैं, जो तेजी से वजन कम करने में मदद करते हैं- उनमें आपको भूख लगने लगती है और कुछ खा नहीं सकते।
 लेकिन अच्छा यह है कि वजन कम करते हैं, उसे वापस पाने के लिए?

कई पाउंड वजन को स्थाई रूप से कम रखने के लिए, धीरे-धीरे अपना वजन कम करना सबसे अच्छा होता है और कई विशेषज्ञों का मानना ​​है कि आप “डाइट” पर जाए बिना अपने वजन को कम कर सकते हैं। बस आपको अपने जीवनशैली में कुछ बदलाव करने की आवश्‍यकता है।


 1. वसा का एक पाउंड – 3500 कैलोरी के बराबर होता है। आहार और व्यायाम संशोधनों के माध्यम से एक दिन में 500 कैलोरी कम करके, आप एक सप्ताह में करीब एक पाउंड कम कर सकते हैं। यदि आप सिर्फ अपना वर्तमान वजन बनाए रखना चाहते हैं, तो प्रति दिन 100 कैलोरी नष्‍ट करना बहुत है, इससे आप एक से दो पाउंड वजन कम कर सकते हैं, जो हर साल एक वयस्‍क में बढ़ जाता है। “डाइट” पर जाए बिना वजन कम करने में मदद करने के लिए इन सरल, दर्द रहित योजनाओं में से एक या एक से अधिक विधि अपनाएं।
हर दिन नाश्ता करें

2. बहुत से लोग सोंचते हैं कि नाश्ता नहीं करना कैलोरी कम करने का अच्छा तरीका है, लेकिन वे आमतौर पर दिन भर में अधिक खाते हैं। “अध्ययन दर्शाते हैं कि, नाश्ता करने वाले लोगों की बीएमआई नाश्ता न करने वालों की तुलना में कम होती है और वे स्कूल में या बोर्डरूम में बेहतर प्रदर्शन करते हैं।” अपने दिन की त्व्रित और बेहतरीन शुरुआत के लिए एक कटोरा सिर्फ अनाज के साथ फल और कम वसा वाले दुग्धी पदार्थ ले सकते हैं।
अपना भोजन चबाएं

 3. 20 मिनट का एक टाइमर सेट करें और खुद को देखें कि आप कितनी धीमे खाना खाते हैं। यह जटिल डाइट योजना के बिना वज़न कम करने के अभ्यास की मुख्य आदतों में से एक है। प्रत्येक बाइट को काटिये स्वाद लीजिये जब तक घंटी बजने न लगे।

 3. अधिक नींद, कम वजन-मिशिगन विश्‍वविद्यालय के शोधकर्ता, जो 2,500 कैलोरी प्रति दिन कम करते हैं, के अनुसार हर रात एक घंटा ज्‍यादा सोना व्‍यकित को एक साल में 14 पाउंड वजन कम करने में मदद कर सकता है। इससे पता चलता है कि आप निष्क्रिय गतिविधियों- जैसे बेकार के स्‍नैक्‍स खाने- की जगह सो कर बिना कुछ किये 6 प्रतिशत कैलोरी कम कर सकते हैं।
अधिक सब्जियां खाएं

4.आज रात के खाने के साथ सिर्फ एक के बजाय तीन सब्जियां सर्व करें, और आप वास्तव में कोशिश करे बिना अधिक खा लेंगे। अधिक विविधता लोगों को अधिक खाना खाने के लिये प्रेरित करती है – और अधिक फल और सब्जियां खाना वजन कम करने का एक शानदार तरीका है।
सूप पीजिये


5.भोजन की शुरुआत में सूप लें, क्योंकि यह आपकी भूख को नियंत्रित रखता है और खाना खाने की क्रिया को धीमा कर देता है। क्रीम युक्‍त सूप नहीं लें, यह वसा और कैलोरी में उच्च हो सकता है।

6.अपने पुराने स्‍किन टाइट कपड़ों को देखें
एकपुरानी पसंदीदा पोशाक, स्कर्ट, या जींस को सामने टांग- दें और उन्‍हें हर रोज देखें। इस पर अपनी आंखें लगायें रखें। ऐसा आइटम चुनें जो थोड़ा छोटा हो, ताकि बहुत जल्‍द आप उसे एक इनाम समझ कर पहन सकें। अपने अगले छोटे लक्ष्‍य के लिये, पिछले साल की कॉकटेल ड्रेस निकालें।

7. पिज्जा एक बेहतर स्लाइस बनाएँ पिज्‍जा के ऊपर सजाने के लिये मीट के बजाये सब्जियां चुनें और इससे आप अपने भोजन से100 कैलोरी कम कर सकते हैं।


8. चीनी में कटौती

नियमित लिया जाने वाला सोडा जैसे चीनी युक्‍त पेय की जगह पानी या शून्‍य-कैलोरी वाले फ्रूट जूस लें और आपको 10 चम्‍मच चीनी से दूर रहना होगा।
एक लंबे, पतले गिलास का प्रयोग करें

9. बिना डा‍इटिंग के तरल पदार्थों से मिलने वाली कैलोरी को कम करने के लिये छोटे और चौड़े गिलास की जगह एक लंबे, पतले गिलास का प्रयोग करें। आप रस, सोडा, शराब, या कोई भी अन्य पेय 25% से 30% कम पियेंगे।

10. शराब सीमित करें

शराब में कार्बोहाइड्रेट या प्रोटीन की तुलना में एक ग्राम अधिक कैलोरी होती है। यह आपके संकल्‍प को हलका कर सकती है, जिसके चलते आप बिना सोचे समझे चिप्‍स, मूंगफली, और अन्‍य चीजें अपनी सामान्‍य सीमा से अधिक खाते जायेंगे।


11.हरी चाय लीजिये-हरी चाय पीना वजन घटाने की अच्‍छी रणनीति हो सकती है।


12.योग एवं ध्‍यान करें

एक अध्‍ययन के अनुसार जो महिलाएं योग करती हैं उनमें अन्‍य की तुलना में वजन घटाने की क्षमता ज्‍यादा होती है। क्या संबंध है? नियमित योग करने वाले लोग अपने खाने के प्रति “जागरूक” दृष्टिकोण अपनाते हैं।

13. घर पर खायें

एक सप्‍ताह में कम से कम पांच दिन घर पर ही भोजन पकायें। एक उपभोक्ता रिपोर्ट सर्वेक्षण में पाया गया कि वजन कम कने में सफल हुए लोगों में यह आदत शीर्ष पर थी। चुनौतीपूर्ण लगता है? खाना पकाना उससे भी आसान हो सकता है, जितना कि आप सोचते हैं।


  • ऎसे  करें बच्चोका वजन कम!



आजकल बच्चों में मोटापे की शिकायतें बढ़ती जा रही है। मोटापे के चलते शारीरिक के साथ-साथ मानसिक परेशानियां भी उठानी पड़ती है। कई बार बच्चे मोटापे की वजह से हीन भावना के शिकार होने लगते है। ऎसे में बच्चों में बढ़ रही मोटापे की बीमारी को ये उपाय करके कम किया जा सकता है।

1.एक्सरसाइज

मोटापे को कम करने के लिए बच्चों में वर्कआउट की आदत डालें, उन्हें शरीर को फिट रखने के लिए प्रोत्साहित करें और हो सके तो आप भी उनके साथ एक्सरसाइज करें। इससे बच्चे का मनोबल बढ़ेगा और वो अधिक उत्साह से एक्सरसाइज पर ध्यान देगा। उन्हें योगा के फायदे बताएं। साथ ही हेल्थ क्लब ज्वॉइन करवाना भी एक अच्छा उपाय है। उन्हें आउटडोर गेम्स खेलने के लिए कहें। इससे बच्चों का वजन नियंत्रित रहेगा।

2.विशेषज्ञ की सलाह

अगर आपके बच्चे का मोटापा लगातार बढ़ता जा रहा है, तो इसे गंभीर रूप से लें और इस बारे में विशेषज्ञ से कंसल्ट करें। बच्चे का तेजी से वजन बढ़ना किसी बीमारी का स ंकेत भी हो सकता है। ऎसे में विशेषज्ञ की सलाह कारगर साबित होगी और आपको पता चल जाएगा कि बच्चे के वजन बढ़ने का कारण क्या है।

3.हेल्दी डाइट

वजन कम करने के लिए बच्चों की डाइट का खास ख्याल रखना बेहद जरूरी है। दरअसल बच्चों को जंक या फास्ट फूड बहुत पसंद होते है, जो मोटापा बढ़ाने की लिए सबसे ज्यादा जिम्मेदार होते हैं। बच्चों को ऎसा खाना खाने से रोके। उनके खाने में दाल और हरी सब्जियां जरूर रखें। हाई कैलोरी वाले स्नैक्स और ज्याद चॉकलेट्स से बच्चों को दूर रखें। उन्हें हेल्दी डाइट दें।

4. गुनगुना पानी पीकर करें वजन कम


पानी हमारे शरीर के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। पानी के बिना इंसान जी नहीं सकता है, लेकिन गुनगुना या गर्म पानी भी कम फायदेमंद नहीं है। ये गुणों की खान है। गुनगुना पानी पीने से मोटापा कम होता है।

मोटापे से परेशान लोगों के लिए गुनगुना पानी बहुत हितकारी है। खाना खाने के आधे घंटे बाद एक ग्लास गुनगुने पानी को सिप करके पीने से शरीर का वजन कम होता है। इसके पीछे ये तर्क दिया जाता है कि गुनगुना या गर्म पानी शरीर के विषैले तत्वों को बाहर निकाल देता है। इससे शरीर की गंदगी को साफ करने का प्रोसेस तेज होता है और किडनी के माध्यम से गंदगी बाहर निकल जाती है।

इसके अलावा थोड़ा गर्म पानी पीने से कब्ज भी दूर होती है। गर्म पानी से नहाने से थकान मिटती है और त्वचा में निखार आता है। गर्म पानी के इस्तेमाल से वजन कम होने के साथ-साथ ब्लड सर्कुलेशन भी संतुलित होता है। गर्म पानी में नींबू और शहद मिलाकर पीने से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है, साथ ही ये मिश्रण वजन कम करने में भी फायदेमंद है। किडनी की सही देखभाल के लिए दिन में सुबह-शाम 2 बार गुनगुना पानी पीना चाहिए। जिससे शरीर में मौजूद गंदगी बाहर निकल जाती है और शरीर साफ रहता है।
खाने में कुछ खास परहेज से बढ़ते पेट पर लगाएं लगाम

अक्सर कई बीमारियों की शुरुआत पेट निकलने की समस्या से ही शुरु होती है। एक स्वास्थ्य विशेषज्ञ के अनुसार, प्रतिदिन अपने भोजन में नमक की मात्रा घटाकर और पोटैशियम से भरपूर फाइबर युक्त भोजन का अधिकाधिक उपयोग कर हम तोंद के निकलने से बच सकते हैं।

अमेरिका के वॉशिंगटन में डाइजेस्टिव सेंटर की स्थापना करने वाले गैस्ट्रोइंट्रोलॉजिस्ट रॉबिन चुटकन ने अपनी नई पुस्तक में कहा है कि पुरुषों की अपेक्षा महिलाओं में तोंद निकलने की शिकायत अधिक होती है। इसका मुख्य कारण यह है कि औरतों के आंत की लंबाई अधिक होती है।

वेबसाइट फीमेलफर्स्ट डॉट को डॉट यूके के अनुसार, चुटकन ने अपनी इस नई पुस्तक में बताया है कि महिलाओं एवं पुरुषों के पाचन तंत्र में कुछ मूल अंतर होते हैं। इसलिए पेट को निकलने से बचाने के लिए कुछ परहेज बरते जाने चाहिए।

चुटकन के कुछ खास सुझाव इस प्रकार है-

भोजन में नमक का अधिक प्रयोग करने से भी पेट फूल सकता है। एक दिन में अधिकतम 1500 मिलीग्राम नमक ही खाएं।

घुलनशील एवं अघुलनशील रेशेयुक्त भोजन की मिश्रित मात्रा का प्रयोग करना चुस्त-दुरुस्त एवं छरहरा रहने का सबसे अच्छा तरीका है। पेट के अत्यधिक भरे होने से बचें, क्योंकि इससे कब्ज होती है।

सोडियम चूंकि शरीर में जल के स्तर को बनाए रखता है, वहीं पोटैशियम अतिरिक्त जल से निजात दिलाने में मददगार होता है। केले और शकरकंद जैसे पोटैशियम से भरपूर खाद्य पदार्थ का सेवन करने से कमर के मध्य हिस्से को पतला करने में मदद मिलती है।

पर्याप्त मात्रा में जल का सेवन करने से भोजन के रेशे अपना कार्य कहीं बेहतर तरीके से कर पाते हैं और कब्ज की शिकायत को दूर रखते हैं।

ऐसे खाद्य पदार्थों से दूर रहें जो पचने में मुश्किल हों, जैसे चीनी या वसायुक्त खाद्य पदार्थ।

फ्लेवर्ड पेय पदार्थों, कम कार्बोहाइड्रेट वाले एवं चीनी रहित खाद्य पदार्थों को हमारा शरीर आसानी से नहीं पचा पाता।

बड़ी आंत में पाए जाने वाले जीवाणु उन्हें फर्मेट करने की कोशिश करते हैं, जिसके कारण पेट में गैस बनती है और पेट फूल जाता है।
बस इन दो एक्सरसाइज की मदद से होगी तोंद कम


यदि आप अपनी तोंद से परेशान हैं और उसे शेप में लाने के लिए जी जान लगाकर कसरत करने में जुटे हैं तो जरा रुक कर एक बार यह भी सोच लीजिए कि कहीं ऐसा तो नहीं कि शरीर से अतिरिक्त वसा हटाने के जुगत में आप खुद को बीमार बना रहे हों।

हर इंसान चाहता है कि वह शर्ट या टी-शर्ट से बाहर झांकती तोंद को कम कर फिट बन सके। और इसके लिए कई लोग रात दिन एक कर तरह-तरह के व्यायाम भी करते हैं। लेकिन उन्हें यह नहीं मालूम होता कि इससे फायदा होने के बजाय उन्हें नुकसान तो नहीं हो रहा है।

जी हां फिटनेस एक्सपर्ट बताते हैं कि जो लोग वजन घटाने के लिए एक्सरसाइज रूटीन बनाए हुए हैं उन्हें सावधान होकर पहले यह तय करना चाहिए कि उनके लिए कौंन सा व्यायाम और कितना व्यायाम बेहतर है। जो लोग बिना सोचे-समझे तमाम तरह के व्यायाम करते हैं, वे फायदे की जगह नुकसान उठआ सकते हैं। आपको जानकर खुशी होगी की आपको अपनी तौंद को कम करने के लिए ढ़ेर सारी नहीं

बल्कि दो एक्सरसाइज ही काफी हैं। लेकिन एक्सरसाइज के साथ-साथ डाइट और दिनचर्या का ध्यान रखना भी जरूरी होता है। तो चलिये जानें कौंन सी हैं ये एक्सरसाइज और क्या है इन्हें करने का सही तरीका।

कैटल बॉल स्विंग

ग्रुप क्लासेज में आपको प्लियोमेट्रिक (एक तरह की कसरत जिसमें बहुत तेज गति होती है) करना सिखाया जाता होगा। इसमें वेट बांधकर टेबल को जंप करते रहना होता है। लेकिन स्टेप अप बेंच को जंप करके पार करना और उस दौरान डंबल या लाइट वेट को टखने से बांधना खतरनाक हो सकता है, क्योंकि इससे चोट लग सकती है।

हालांकि जंप करने से काफी कैलोरी खर्च होती है, लेकिन बात यह भी है कि वेट लेकर जंप करने से कोई टिश्यू या मसल खिंच सकती है या फिर कहीं चोट भी लग सकती है। फिटनेस एक्सरपर्ट बताते हैं कि यदि आप जंप करना चाहते हैं तो कैटल बॉल स्विंग करें। डंबल और बारबेल का उपयोग केवल रेजिस्टेंस ट्रेनिंग प्रोगाम में ही करना चाहिए, जहां आपके सभी मूवमेंट पर ट्रेनर की पेनी नजर होती है।

केटल बॉल एक्सरसाइज के लिए झुक कर (हाफ बेंड) खड़ा होना पड़ता है। इसके बाद दोनों पैरों में थोड़ा गैप बनाया जाता है और कैटल बॉल्स को दोनों हाथों में पकड़कर पैरों के बीच में होते हुए कंधों तक उठाकर स्विंग किया जाता है।

बोट स्टाइल

'बोट' यानी नाव के आकार में शरीर को स्ट्रेच करने की यह एक्सरसाइज पेट का फैट कम करने की एक बेहद कारगर और फायदेमंद एक्सरसाइज है। इसे करने के लिए जमीन पर बैठ जाएं, ऐसे में आपके दोनों पैर सीधे होने चाहिए। अब दोनों हाथों को ऊपर उठाते हुए सांस खींचें और झुकते हुए दोनों पंजों को हाथों से छुएं। इस दौरान कोशिश करें कि आपके कंधों से घुटने छू जाएं। इस एक्सरसाइज को रोज दिन में तीन बार करें। कुछ ही हफ्तों में आप अपने पेट की चर्बी में कमी होती हुई महसूस कर पाएंगे।

फैड डाइट न लें। वजन घटाने के लिए डिटॉक्स बेहतर उपाय नहीं है। तेजी से वजन घटाना कई बार खतरनाक साबित हो सकता है। फैड डाइट आपको मोटा होने से बचाता है लेकिन इसके साथ कई स्वास्थ्य से जुड़ी समस्याएं हो सकती हैं और कई मामलों में तो आप पहले से भी ज्यादा मोटे हो जाते हैं। पौष्टिक आहार समय से खाएं और भूख से थोड़ा कम ही खाएं।

वजन घटाने के लिए सबसे पहले डायटीशियन से संपर्क करके अपने अनुकूल डाइट प्लान बनवाएं ताकि आप हेल्दी तरीके से वजन घटा सकें और एक्सरसाइज का भी पूरा असर हो सके। वजन घटाने के लिए डाइट और एक्सरसाइज दोनों को साथ में लेकर ही बेहतर परिणाम पाये जा सकते हैं।
खाली पेट करें कसरत तो मोटापा छू


मोटापा भगाने का और एक मंत्र आ गया है। हाल ही एक शोध में पता चला है कि सुबह जल्दी उठकर नाश्ते से पहले नियमित व्यायाम करने से मोटापा जल्दी दूर भागता है। शोध के मुताबिक जो लोग नाश्ते के बाद कसरत करते हैं उनके मुकाबले वे अपना मोटापा 20 फीसदी तक ज्यादा घटा सकते हैं बनस्पित उनके जो नाश्ते के बाद कसरत करते हैं।

शोधकर्ताओं ने इस अध्ययन के जरिए यह पता लगाने की कोशिश की थी कि क्या रातभर भूखे रहने के बाद सुबह उठकर व्यायाम करने से भूख बढ जाती है और लोग ज्यादा खाना खाते हैं। अध्ययन के तहत 12 सक्रिय लोगों को सुबह 10 बजे के लगभग ट्रेडमिल पर कुछ देर व्यायाम करने को कहा गया। इनमें सुबह के नाश्ते से पहले व बाद में व्यायाम करने वाले दोनों तरह के लोग शामिल थे।

बाद में सभी प्रतिभागियों को चॉकलेट मिल्क शेक दिया गया और लंच में पास्ता दिया गया। प्रतिभागियों से कहा गया कि वह पेट भर कर खाना खा सकते हैं। शोधकर्ता एम्मा स्टीवंसन और जेवियर गोन्जालेज के समूह ने पाया कि बिना नाश्ता किए व्यायाम करने वाले प्रतिभागियों को दिन में ज्यादा भोजन की आवश्यकता महसूस नहीं हुई। भूखे पेट व्यायाम करने वाले प्रतिभागी अपेक्षाकृत 20 प्रतिशत अधिक वसा कम करने में कामयाब रहे।

Post a Comment

How did you like this article. Be sure to comment Your comment makes us excited to innovate. If you have any question about blogging, then comment.We will reply to your comment immediately. And all your questions will be resolved. If you want, you can feel free to contact us.

Previous Post Next Post